rajasthan-ki-betiya-bani-afsar

RAS Result:राजस्थान के हनुमानगढ़ की तीन बहनों अंशु, रीतू और सुमन ने राज्य की प्रशासनिक परीक्षा पास की है। दो अन्य बहनों रोमा और मंजू जो पहले से ही RASअधिकारी हैं। अब,सभी पांच बहनें,जो एक किसान सहदेव सहारन की बेटियां हैं राजस्थान प्रशासनिक सेवा Rajasthan Administrative Services(RAS)की अधिकारी हैं। संभवतया यह राजस्थान का पहला परिवार है, जिसकी पांच बेटियों ने आरएएस परीक्षा पास की है।और अब कई लोगों के लिए प्रेरणा बन चुकी हैं

सहारन ने आठवीं तक पढ़ाई की, जबकि उनकी पत्नी लक्ष्मी ने कोई शिक्षा नहीं ली है।

तीनों बहनों ने एक साथ राजस्थान प्रशासनिक सेवा परीक्षा की तैयारी की और उपस्थित हुईं। ओबीसी में अंशु को 31वां, रीतू को 96वां और सुमन को 98वां रैंक मिला है। इनमें रीतू सबसे छोटी है।

रोमा ने 2010 में आरएएस की परीक्षा पास की थी। वह अपने परिवार की पहली आरएएस अधिकारी थीं। वह वर्तमान में झुंझुनू जिले के सुजानगढ़ में ब्लॉक डेवलपमेंट अफसर के पद पर कार्यरत हैं। मंजू ने 2017 में आरएएस परीक्षा उत्तीर्ण की और अब नोहर, हनुमानगढ़ में सहकारिता विभाग में कार्यरत हैं।

राजस्थान लोक सेवा आयोग (RPSC) ने आरएएस 2018 का फाइनल रिजल्ट मंगलवार को घोषित कर दिया. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर टॉपर्स को बधाई दी हैं।परिणाम आरपीएससी की आधिकारिक वेबसाइट पर घोषित किए गए थे।

बहनों के लिए बधाई

सहारन की तीन बहनों ने आरएएस 2018 की परीक्षा पास कर ली है, सोशल मीडिया पर देश के अलग-अलग हिस्सों से परिवार की तारीफ हो रही है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी तीनों को बधाई दिया। आज तीनों बहनों एक साथ आरएएस में चुनी गईं,पिता और परिवार को गौरवान्वित किया।

ये भी पढ़े

RPSC RAS Result: जोधपुर की सड़कों पर झाड़ू लगाने वाली दो बच्चों की मां आशा कंदारा का डिप्टी कलेक्टर बनना तय,जाने इनकी धैर्य और दृढ़ संकल्प की कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You have successfully subscribed to JobChahiye alerts and newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

Job Chahiye will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.